IAS Ki Tayari Kaise Kare? – IAS के लिए योग्यता, आयु, सिलेबस की सम्पूर्ण जानकारी!

IAS Ki Tayari Kaise Kare? – IAS के लिए योग्यता, आयु, सिलेबस की सम्पूर्ण जानकारी!

Hello दोस्तों आप सभी का स्वागत है studysector में. दोस्तों आज हम जिस topic पर आपसे बात करने जा रहे हैं उसका नाम हैं IAS Ki Tayari Kaise Kare, जी हाँ दोस्तों आज के इस article में हम जानेंगे की एक आईएस ऑफिसर बनने के लिए क्या योग्यता होनी चाहिए और उसकी क्या आयु और आईएस एग्जाम का क्या सिलेबस होता हैं ये सभी बाते हम यहाँ पर जानेगे.

दोस्तों हम जानते हैं की हर इंसान का सपना होता है की वो अपने देश के लिए कुछ करें और अपने परिवार के लिए कुछ करें, तो कुछ लोग डॉक्टर बनने की राह थामते है तो कोई इंजीनियर बनने के बारे में सोचते हैं, पर उन्ही में से कुछ लोग अपने देश की सेवा में अपना जीवन अर्पित करने के बारे में सोचते हैं तो वो लोग IAS, IPS बनने के बारे में सोचते हैं.

लेकिन जो लोग IAS बनने के बारे में सोचते है ये बहुत अच्छी बात हैं किन्तु IAS Officer  बनना इतना आसान भी नही हैं. एक आईएस ऑफिसर बनने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती हैं, दिन रात एक कर देना पड़ता हैं एक ias officer बनने के लिए. किन्तु आप यहाँ पर हमारी बातो से घबराइये नही क्योकि हमारा लक्ष्य आपको डराना नही बल्कि हमारा लक्ष्य आपकी मदद करना हैं हमारा लक्ष्य आपको हर एग्जाम के बारे में अवगत कराना हैं.

दोस्तों IAS बनने के लिए आपको सिर्फ सही रणनीति से पढाई, मेहनत और लगन की जरुरत है. आमतौर पर ऐसा माना जाता है की IAS या अन्य बड़ी परीक्षा को पास करने के लिए कई सालों का समय लगता है लेकिन दोस्तों ये सब सिर्फ आपकी सोच पर निर्भर करता है, आपके अंदर बस IAS बनने का जज्बा होना चाहिए फिर देखिये आप IAS क्या किसी भी Exam को पास कर सकते है। तो चलिए अब आपको बताते है IAS बनने से जुडी सारी जानकारी हिंदी में-

IAS kya hai?

IAS full form – IAS Ka Matlab प्रशासनिक सेवा अधिकारी होता है. आईएएस का पद विशेष अधिकार वाला होता है. इन्हें लोक सेवा अधिकारियों के तौर पर जाना जाता है और ये भारतीय लोकतंत्र के ध्वजवाहक कहलाते हैं. इनकी अलग अलग भूमिकाएं होती है और इनकी सैलरी में भी बहुत अंतर होता है.

यह सभी अधिकारी संघ लोक सेवा आयोग की ओर से आयोजित सिविल सेवा परीक्षा पास करने के बाद चयनित किए जाते हैं. यह संस्था सीविल परीक्षा जैसे- IAS, IPS, IFS, NDA, CDS जैसी लगभग 24 पदों के लिए परीक्षा का आयोजन करती है जो उम्मीदवार सिविल सर्विस की परीक्षा में सबसे High रैंक हासिल करते है उन उम्मीदवार को IAS Officer बनाया जाता है.ias-ki-teyari-kese-kre

IAS full Form in Hindi

IAS का हिंदी में मतलब होता है:- भारतीय प्रशासनिक सेवा. यह एक सिविल सेवा है, इसकी शुरुवात 1850 के दशक में हुई थी. इसे भारतीय सिविल सेवा भी कहा जाता है.

IAS में पहुँचने से पहले एक Highly Competitive Exam को पास करना होता है, जिसका आयोजन Union Public Service Commission द्वारा किया जाता है.

IAS एक बहुत ही बड़ी पोस्ट होती है, जिसके लिए कई प्रकार की योग्यताए होनी चाहिए. इसके बाद कई एग्जाम पास करने होते है और उसके बाद UPSC द्वारा सिलेक्शन किया जाता है.

IAS बनने के लिए योग्यता

दोस्तों IAS बनने के लिए किसी भी student के पास किसी भी विषय में मान्यता-प्राप्त university से Graduation की Degree होनी चाहिए. अगर कोई भी उम्मीदवार Graduation के Last Year में है वह भी इस परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं. किसी भी व्यावसायिक और तकनीकी जैसे MBS, बीटेक, एग्रीकल्चर व COMPUTER आदि Degree धारक भी इस परीक्षा में आवेदन कर सकते हैं.

जरूरी नही की इस एग्जाम को university topper या bright student ही दे सकता हैं इस एग्जाम को देने के लिए आपके अंदर जज्बा होना चाहिए.

  • सामान्य – एक अभिय्र्थी के लिए अधिकतम उम्र 32 वर्ष होनी चाहिए.
  • ओबीसी – अभिय्र्थी के लिए अधिकतम आयु 35 वर्ष होनी चाहिए.
  • अनुसूचित जाति,अनुसूचित जनजाति- एक उम्मीदवार के लिए अधिकतम उम्र 37 वर्ष होनी चाहिए.
  • भारतीय प्रशासनिक सेवा और भारतीय पुलिस सेवा के लिए, उम्मीदवार को भारत का नागरिक होना चाहिए.

IAS Ki Age Limit

IAS के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष है जबकि अधिकतम आयु सीमा हर वर्ग के हिसाब से अलग-अलग निर्धारित की गयी है। इसके अलावा कुछ विशेष वर्ग को इसमें छूट दी जाती है।

  • General Category – 32 वर्ष
  • OBC – 35 वर्ष (3 वर्ष की छूट)
  • SC/ST – 37 वर्ष (5 वर्ष की छूट)
  • EWS – 32 वर्ष (कोई छूट नहीं)
  • विकलांग – 42 वर्ष (10 वर्ष की छूट)

IAS अधिकारी कैसे बनें?

IAS की परीक्षा भारत की सबसे Competitive परीक्षा होती है इसको पास करना कोई आसान बात नहीं है. IAS की तैयारी करने में लोगों को सालों लग जाते हैं और कुछ लोग तो स्नातक होने के साथ साथ ही IAS की तैयारी शुरू कर देते हैं. IAS बनने के लिए आपको UPSC Civil Services Examination को पास करना होता है. यह परीक्षा 3 Steps में बांटी गयी है –

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार अनुभाग

प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)

प्रारंभिक परीक्षा IAS की 1st स्टेज होती है जिसे क्लियर करने के बाद उम्मीदवार इसकी 2nd स्टेज यानि मुख्य परीक्षा में शामिल हो सकते है.इस परीक्षा ने दो पेपर लिए जाते हैं जिनका वर्णन हमने आगे किया हैं.

आईएएस सिलेबस

IAS Syllabus For Paper-1

पेपर-1 में 200 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते है जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है। आईएएस सिलेबस और IAS Banne Ke Liye Subject के बारे में जानने के लिए आगे पढ़े।

  • वर्तमान मामले (CURRENT AFFAIRS) – राष्ट्रीय और अन्तर्राष्ट्रीय महत्व की वर्तमान घटनाये
  • सामान्य विज्ञान (GENERAL SCIENCE)
  • भारत का इतिहास (HISTORY OF INDIA)
  • पर्यावरण (ENVIRONMENT) – जलवायु परिवर्तन, जैव विविधता, पर्यावरण पारिस्थिकी
  • भारतीय राजनीति और शासन (INDIAN POLITY & GOVERNANCE) – संविधान, राजनीतिक प्रणाली, पंचायती राज आदि।
  • विश्व और भारतीय भूगोल (GEOGRAPHY) – अधिकारों के मुद्दे , भारत और दुनिया के आर्थिक व भौतिक भूगोल
  • सामाजिक विकास और आर्थिक (SOCIAL DEVELOPMENT & ECONOMIC) – सामाजिक क्षेत्र की पहल, सतत विकास, समावेश, जनसांख्यकी और गरीबी।

IAS Syllabus For Paper-2

इसमें भी 200 मार्क्स के ऑब्जेक्टिव टाइप प्रश्न पूछे जाते है जिसके लिए 2 घंटे का समय दिया जाता है।

  • समस्या को हल करना और निर्णय लेना (PROBLEM SOLVING OR DECISION MAKING)
  • सामान्य मानसिक योग्यता (GENERAL MENTAL ABILITY)
  • समझ (COMPREHENSION)
  • डेटा व्याख्या (DATA INTERPRETATION)
  • विश्लेषणात्मक क्षमता और तार्किक तर्क (ANALYTICAL & LOGICAL REASONING)
  • संचार कौशल सहित पारस्परिक कौशल (INTERPERSONAL SKILLS INCLUDING COMMUNICATION SKILLS)

मुख्य परीक्षा (Main Exam)

सिविल सेवा परीक्षा का दूसरा चरण मुख्य परीक्षा होती है. उम्मीदवार प्रारंभिक परीक्षा में पास होने के बाद ही मुख्य परीक्षा दे सकते है. इस परीक्षा के लिए उम्मीदवारो को लगभग 2 से 3 महीने का समय दिया जाता है. जिस प्रकार प्रारंभिक परीक्षा पूरी तरह वस्तुनिष्ठ (OBJECTIVE) प्रश्न पर आधारित होती है. इसमें पास होने के लिए अच्छी लेखन तकनीक का होना जरूरी हैं.

मुख्य परीक्षा के प्रश्नपत्र:

  • प्रश्नपत्र 1 – निबंध
  • प्रश्नपत्र 2 – सामान्य अध्ययन 1 (संस्कृति और भारतीय विरासत, विश्व का इतिहास और भूगोल)
  • प्रश्नपत्र 3 – सामान्य अध्ययन 2 (संविधान,प्रशासन, राजनीति, सामाजिक न्याय तथा अन्तर्राष्ट्रीय संबंध)
  • प्रश्नपत्र 4 – सामान्य अध्ययन 3 (आर्थिक विकास,जैव विविधता, पर्यावरण, प्रौद्योगिकी,आपदा प्रबंधन)
  • प्रश्नपत्र 5 – सामान्य अध्ययन 4 (अभिवृत्ति, सत्यनिष्ठा)
  • प्रश्नपत्र 6 – वैकल्पिक विषय – पेपर 1
  • प्रश्नपत्र 7 – वैकल्पिक विषय – पेपर 2

साक्षात्कार (Interview)

जब आप दोनों परीक्षा को पास कर लेते हैं तो आप आखरी स्टेज पर पहुच जाते हैं जो की है साक्षत्कार. जी हाँ दोस्तों अंत में आपको एक साक्षत्कार प्रकिरिया से गुजरना पड़ता हैं.  IAS एग्जाम के इंटरव्यू का कोई पैटर्न नही होता है ये किसी भी विषय से जुड़ा हो सकता है आईएएस इंटरव्यू के सवाल थोड़े अलग टाइप के हो सकते है.

IAS के कार्य

जिले के सभी कर्मचारी और अधिकारी और ऑफिसर ये सभी एक IAS ऑफिसर के अंदर काम करते हैं.जिले के सभी महत्वपूर्ण कार्य कलेक्टर के द्वारा पास किये जाते हैं. और इन्ही में से कई सारे निणर्य एक IAS ऑफिसर के द्वारा पास किये जाते हैं.

एक IAS ऑफिसर पर किसी भी नेता या अन्य पार्टी का दबाव नही होता हिं. एक ऑफिसर अपने निर्णय स्वयं लेता हैं.

IAS ऑफिसर जरूरत पढ़नी पर कोई भी नया नियम और नई  योजना भी निकल सकता हैं. IAS बनने के बाद IAS के कार्य संसद में बनने वाले कानूनो को अपने क्षेत्र या शहरों में लागू करवाते है तथा इसके साथ नए कानून व नीतियां बनाने में भी अपना योगदान देते है.

Conclusion

दोस्तों उम्मीद करते है की आपको IAS कैसे बन सकते हैं की जानकारी पसंद आयी होगी और आप IAS Ke Liye Konsi Degree Chahiye होती है के बारे में अच्छे से समझ गए होंगे. और साथ ही IAS बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए ये भी आप समझ गये होंगे.

दोस्तों आप ये सम्पूर्ण जानकारी की IAS kese bne को अपने दोस्तों के साथ  भी जरुर share करें जिससे की उन्हें भी ये पता चल सके की एक आईएस ऑफिसर कैसे बना जाता हैं.

इस article में अंत तक बने रहने के लिए आपका धन्यवाद.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here